जंगल का राजा शेर

एक बार एक उदास बंदर मरने को गया तो जाते-जाते उसने सोते हुए शेर के कान खींच लिये। शेर (गुस्से से): किसने किया ये..? किसने अपनी मौत बुलायी है…? बंदर: मैं हूँ महाराज। शेर: ये करते हुए तुम्हें किसी ने देखा नहीं? बंदर: नहीं महाराज। शेर: ठीक है, एक बार और करो अच्छा लगता है।